Sufinama

पंजाबी सूफ़ी कवि

पंजाबी सूफ़ी कवि

पाकिस्तान से तअ’ल्लुक़ रखने वाले मशहूर सूफ़ी शाइ’र आपकी काफ़ियाँ काफ़ी मशहूर हैं

1680 -1757 क़सूर

पंजाब के मा’रूफ़ सूफ़ी शाइ’र जिनके अशआ’र से आज भी एक ख़ास रंग पैदा होता है और रूह को तस्कीन मिलती है

बारहवीं सदी के मुबल्लिग़ और सूफ़ी बुज़ुर्ग थे, उनको क़ुरून-इ-वुस्ता के सबसे मुमताज़ और क़ाबिल-ए-एहतिराम सूफ़िया में से एक कहा गया है, उनका मज़ार पाकपतन, पाकिस्तान में है

मशहूर-ए-ज़माना तसनीफ़ “हीर राँझा” के मुसन्निफ़ और पंजाबी शाइ’र

1538 -1599 लाहौर

पंजाब के सबसे मक़बूल शाइ’र

1630 -1691 शोरकोट

पंजाबी और फ़ारसी ज़बान के मा’रूफ़ सूफ़ी शाई’र

1753 -1823 अमृतसर

सूफ़ी शाइ’र के तौर पर जाने जाते हैं